• अफरीकन महोगनी

महोगनी

  • इमारती लकड़ी का पेड़ है ।
  • विष्व में इसकी लकड़ी सबसे अच्छी मानी जाती है ।
  • दुनिया मंे सबसे मूल्यवान व बेष कीमती लकड़ी का पेड़ है ।
  • जो उश्ठाकटिबंधीय हार्डवुड मे से एक है ।
  • यह एक सीधा बढ़ने वाला पेड़ है ।
  • यह गर्म प्रदेषों में होने वाला ताकतवर लकड़ी का पेड़ है ।
  • इसकी लकड़ी की तुलना सागवान व षिषम से की जा सकती है ।
  • यदि किसान अपने खेतों की पेड़ पर भी लगाते है ।

यह मुख्य फसल में किसी भी तरह की कोई बाधा उत्पन्न नहीं होती है ।

इसकी पत्तियों आसानी से मिट्टी में मिलकर खाद का काम करती है। इसकी पत्तियों जमीन को उपजाऊ बनाती है इस की लकड़ी कठोर लकड़ियों मंे सबसे अच्छी मानी जाती है। इस की लकड़ी का रंग गहरा लाल-भूरा होता है । इसकी लकड़ी बहुत कठोर व लम्बी चलाने वाली होती है । इसकी लकड़ी पानी में भी नहीं सकती है । इसलिए इसका उपयोग नाव व जहाज बनाने में अधिक किया जाता है ।

फर्निचर दरवाजे खिड़कियां तथा इन्डोर्स मं मषीन कारीगरी हेतू काम में लिया जाता है । इस लकड़ी में सिकुड़न, फेलना तथा मुड़ना नहीं होता है । भारत मंे जलवायु परिस्थितिया दक्षिण अफ्रिकी पेड़ महोगनी के लिए ज्यादा उपयुक्त है ।

यह पेड़ 5 से 50 डिग्री तक उच्च तापमान सहनषील पौधा है । खारे पानी में भी हो जाता है किसी भी प्रकार की मिट्टी में भी बढ़ता जाता है । पौधा रोपड़ में 1 फीट गहरा व 1 फीट चैड़ा गडढ़ा खोदकर इस में कम्पोस्ट खाद डालकर वर्शा ऋतु मंे लगाना अच्छा रहता है । अगर दीपक का प्रकोप होता दीपक रोधी दवाई देनी होती है । अन्यथा किसी भी प्रकार की दवाई की आवष्यकता नहीं है । 1 से 2 साल में लगभग 12-18 फीट की ऊचाई प्राप्त कर लेता है । सीधा बढ़ने वाला पेड़ है । अतिरिक्त षाखाओं की छअकी करनी होती है । पौधा रोपड़ में पौधे से पौधे की दूरी 8 फीट रखना उचित रहता है ।

रोपाई के समय षुरुआत में 2 दिनों के अन्तराल में एवं इसके 3 महिने वाद 5 दिन बाद पानी देना उचित रहता है ।

ड्रीप पद्धति से सिंचाई पौधे के लिए अधिक गुणकारी रहती है । एक बार सिंचाई मंे 5-7 लीटर पानी देना होता है ।

यह पौधा 10-12 साल के जीवन काल में 50-60 फीट तक बढ़ता है । 2-4 फीट की मोटाई प्राप्त कर लेता है ।

इस प्रकार अपनी परिपक्वता की अवस्था तक लगभग 25 से 30 घन फीट लकड़ी प्रदान करता है । वर्तमान में इसकी लकड़ी की कीमत 2000 से 5000 फीट तक है ।

इस प्रकार अपने जीवन काल में एक पेड़ लगभग 100000 रु. की आमदनी प्रदान करता है। पौधे की वृद्धि एवं उत्पादन इसके रखरखाव पर निर्भर करती है । सौ पेड़ों से लगभग 12 साल बाद 1 करोड़ की आय प्राप्त की जा सकती है ।

नोट:- महोगनी, एस मोगी व रेडवुड ट्री यह तीन एक ही पौधा है ।